15 अगस्त तक कराए जाएंगे विश्वविद्यालयों की परीक्षाएं, प्रदेश के सभी कुलपतियों को उपमुख्यमंत्री डॉ दिनेश शर्मा ने दिया निर्देश।

0
83
उपमुख्यमंत्री डॉ दिनेश शर्मा

मार्च 2021 के शुरुआती महीने से ही उत्तर प्रदेश के सभी शिक्षण संस्थान विश्वविद्यालय स्कूल कॉलेज कोरोना की दूसरी लहर से प्रभावित होने की वजह से बंद कर दिए गए थे। बीते करीब 2 साल से छात्रों के पढ़ाई पर कोरोना की वजह से बुरा असर पड़ रहा है। पिछले साल भी करीब 6 महीने तक छात्रों के स्कूल कॉलेज कोरोना की पहली लहर की वजह से बंद कर दिए गए थे। धीरे-धीरे कोरोना के मामले सामान्य होने के बाद स्कूल, विश्वविद्यालय और कॉलेजों को खोलने की कवायद शुरू हुई। लेकिन मार्च 2021 आते-आते फिर इनको कोरोना की दूसरी लहर की वजह से बंद करना पड़ा। स्कूल कॉलेज खोलने को लेकर प्रदेश के उपमुख्यमंत्री डॉ दिनेश शर्मा ने बड़ा आदेश दिया है। 

यह भी पढ़े : मोदी – शाह का जम्मू कश्मीर पर मंथन : दिल और दिल्ली की दुरी को कम करने की कवायद।

15 अगस्त तक कराये सभी परीक्षाएं

उत्तर प्रदेश के सभी विश्वविद्यालयों को अब परीक्षाएं जल्द शुरू कराने की खबर आ रही है। उत्तर प्रदेश के उपमुख्यमंत्री डॉक्टर दिनेश शर्मा ने राज्य से संबंध विश्वविद्यालयों के कुलपतियों को 15 अगस्त 2021 तक सभी परीक्षाएं पूरी कराने का आदेश दिया है। इस आदेश के बाद संभावना जताई जा रही है कि विश्वविद्यालय द्वारा जल्द ही परीक्षाएं शुरू कराने के आदेश जारी किए जा सकते हैं।

यह भी पढ़े : ट्विटर की मनमानी : एक घण्टे के लिए ट्विटर ने रविशंकर प्रसाद का हैंडल किया ब्लॉक।

डेढ़ घंटे से ज्यादा की नहीं होगी परीक्षा

उपमुख्यमंत्री डॉ दिनेश शर्मा ने कहा यूपी विश्वविद्यालय परीक्षा 2021 के परिणाम अगस्त के अंत तक घोषित हर हाल में कर दिए जाएंगे। विद्यालयों में परीक्षाएं आयोजित कराते समय कोरोना के प्रोटोकाल के नियमों का पालन अनिवार्य रूप से कराना होगा। डॉक्टर दिनेश शर्मा ने अपने आदेश में यह भी कहा कि परीक्षाओं की अवधि को डेढ़ घंटे से अधिक नहीं रखा जाना चाहिए।

यह भी पढ़े : बच्चों के टीकाकरण को लेकर एम्स के निदेशक डॉक्टर रणदीप गुलेरिया का बड़ा बयान।

उपमुख्यमंत्री ने विश्वविद्यालयों में और महाविद्यालयों में यूजी – पीजी के सभी पाठ्यक्रमों के लिए दाखिले की प्रक्रिया को भी 15 अगस्त से शुरू करने का आदेश जारी किया। उन्होंने कहा कि इन सभी पाठ्यक्रमों में प्रवेश की प्रक्रिया को ऑनलाइन ही कराया जाए। आपको बता दें विद्यार्थियों की पढ़ाई शुरू करने के उद्देश्य से सितंबर माह से शैक्षिक सत्र 2021 – 22 को शुरू करने पर सहमति जताई गई है।

यह भी पढ़े :  सुप्रीम कोर्ट ने अपनाया कड़ा रुख : सभी बोर्ड 10 दिन के अंदर 12वीं की मूल्यांकन नीति बताएं, नतीजे 31 जुलाई तक करें घोषित।