UTTAR PRADESH : 5 अगस्त को पुरे प्रदेश में मनाया जाएगा अन्न महोत्सव, प्रधानमंत्री वीडियो कॉन्फ़्रेंसिंग से लाभार्थियों से करेगे बातचीत ।

0
18
अन्न महोत्सव

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के अंतर्गत जिलों में गरीब जरूरतमंद लोगों को निशुल्क राशन वितरण का 3 माह पूरा हो गया है। 3 माह पूरे होने के अवसर पर कल यानी 5 अगस्त को पुरे प्रदेश में अन्न महोत्सव (ANNA MAHOTSAV) का आयोजन किया जा रहा है। इस अन्न महोत्सव आयोजन के लिए हर सरकारी दुकान पर 100 – 100 लाभार्थियों को बुलाने का निर्देश जारी कर दिया गया है।

अन्न महोत्सव

यह भी पढ़े: देश के 18 जिले स्वास्थ्य मंत्रालय के लिए बने चिंता का सबब, यहां कोरोना के मामले में हो रही है तेजी से बढ़ोतरी।

अन्न महोत्सव के दौरान सांसद , विधायक रहेंगे मौजूद

जिले के अलग-अलग हिस्सों में चुनिंदा 24 राशन की दुकानों पर सांसद, विधायक, महापौर, जिला पंचायत अध्यक्ष, ब्लाक प्रमुख, और भाजपा के वरिष्ठ पदाधिकारी इस राशन वितरण कार्यक्रम में शिरकत करेंगे। इस कार्यक्रम के दौरान अनाज लेने वाले लाभार्थी को सरकार की ओर से एक झोला भी दिया जाएगा। इस झोले पर मुख्यमंत्री की फोटो छपी होगी और इन सभी लाभार्थियों को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी दिल्ली से संबोधित करेंगे।

यह भी पढ़े: POLITICAL DRAMA : कांग्रेसी सांसद रवनीत हरसिमरत कौर से भिड़े, कहा बिल पास होने के बाद दिया इस्तीफा, अब कर रही है ड्रामा।

अन्न महोत्सव के अवसर पर पीएम करेंगे बातचीत 

अन्न महोत्सव के अवसर पर प्रधानमंत्री प्रदेश के 10 चुनिंदा जिलों के लाभार्थियों से भी बातचीत करेंगे। इन जिलों में कानपुर को शामिल नहीं है। खाद्य एवं रसद विभाग के अपर मुख्य सचिव अनिल कुमार ने मंगलवार को सभी जिला अधिकारी, संभागीय खाद्य नियंत्रक और जिला आपूर्ति अधिकारियों के साथ वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए प्रदेश में तैयारियों की जानकारी ली।

यह भी पढ़े: NTA NEET UG 2021 की आवेदन तिथि बढ़ी, छात्र इस तारीख तक भर सकते हैं एप्लीकेशन फॉर्म,

पहली बार योजना का लाभ लेने वालों को रहना होगा अनिवार्य रूप से उपस्थित

प्रधानमंत्री के संबोधन में ऐसे लोगों को अनिवार्य रूप से उपस्थित रहने को कहा गया है जो पहली बार इस योजना का लाभ ले रहे। जैसा कि हमने बताया 5 अगस्त को पूरे प्रदेश में अन्य महोत्सव मनाया जाएगा लेकिन खबरों के मुताबिक करीब 350 से अधिक सरकारी राशन की दुकानों पर राशन अब तक नहीं पहुंच पाया है। सरकार की तरफ से कोशिश यह है कि जिन भी राशन की दुकानों पर 100-100 लोगों को बुलाने का निर्देश दिया गया है, कम से कम उन दुकानों तक समय से पहले राशन पहुंचाया जाए।

यह भी पढ़े: GOOGLE : 27 सितम्बर से पहले से कर ले ये काम, वरना बंद हो जाएगा gmail समेत GOOGLE के बाकी अन्य एप।