Uttar Pradesh Unlock : 5 जुलाई से प्रदेश में खुल जाएंगे सिनेमा हॉल और स्टेडियम, स्कूल कॉलेज को छात्रों के लिए खोलने पर अभी फैसला नहीं।

0
2
Uttar Pradesh Unlock

Uttar Pradesh Unlock: Uttar Pradesh में कोरोना संक्रमण के मामले धीरे-धीरे नियंत्रित होते दिखाई दे रहे हैं। इन मामलों में कमी को ध्यान में रखते हुए योगी सरकार चरणबद्ध तरीके से प्रदेश को अनलॉक करने की तैयारी कर रही है। अनलॉक के अगले चरण में योगी सरकार ने 5 जुलाई से सिनेमा हॉल को भी कोरोना प्रोटोकाल के नियमों के पालन करने के साथ संचालन करने की अनुमति दे दी है।

यह भी पढ़े : Health Ministry Press Conference : डेल्टा ए प्लस वेरिएंट से 12 राज्यों में संक्रमण के 56 मामले,जॉनसन एंड जॉनसन वैक्सीन को लेकर बातचीत जारी

कोरोना संक्रमण की स्थिति नियंत्रित होते ही 5 जुलाई से उत्तर प्रदेश के सभी मल्टीप्लेक्स सिनेमा हॉल और स्टेडियम को कोरोना प्रोटोकॉल के अनुपालन के साथ संचालित किया जाएगा। इस फैसले पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने टीम 9 के साथ चर्चा में लिया और अफसरों को निर्देश दिया।

यह भी पढ़े : Odisha Board : कक्षा दसवीं की विशेष परीक्षा के लिए 5 जुलाई से भरे जाएंगे फॉर्म, 30 को होगी परीक्षा।

योगी द्वारा दिए गए निर्देश कि कुछ मुख्य बातें

1. मल्टीप्लेक्स सिनेमा हॉल इन स्टेडियम को कोरोना के नियमों के पालन के साथ खोलने की इजाजत सरकार ने दे दी है।

2. Uttar Pradesh में संक्रमण दर न्यूनतम है।

3. Uttar Pradesh में रोजाना ढाई लाख से ज्यादा कोरोना के टेस्ट किए जा रहे हैं और पॉजिटिविटी दर 1 फ़ीसदी से भी कम हो गई है।

4. बीते 24 घंटे में 2,70,773 कोरोना के टेस्ट प्रदेश भर में हुए जिसमें 133 नए मामले मिले हैं। 228 मरीज स्वस्थ होकर घर भी बीते 24 घंटे में गए।

5. प्रदेश में अब तक कुल 5 करोड़ 83 लाख 82 हजार से ज्यादा कोरोना के टेस्ट किए जा चुके हैं जबकि 16,81,208 मरीज कोरोना संक्रमण से ठीक हो कर घर जा चुके हैं।

यह भी पढ़े : T20 world cup 2021 से पहले मंडराया फिक्सिंग का साया, 2 खिलाड़ियों पर आईसीसी ने लगाया 8 साल का प्रतिबंध।

5. योगी ने अपने निर्देश में बताया कि सरकार पूरे प्रदेशवासियों को बेहतर स्वास्थ्य मुहैया कराने के लिए वचनबद्ध है। स्वास्थ्य सुविधा मुहैया कराने के लिए सरकार गांव ,छोटे कस्बों और महानगरीय क्षेत्रों में हेल्थ एटीएम बनाने की योजना पर विचार कर रहा है।

6. इस हेल्थ एटीएम में अत्याधुनिक मशीनों के द्वारा लोग बॉडी मास इंडेक्स, ब्लड प्रेशर, मेटाबॉलिक एज, बॉडी फैट, हाइड्रेशन, पल्स रेट, हाइट, मसल मास, शरीर का तापमान, शरीर में ऑक्सीजन की मात्रा, वजन सहित अन्य बहुत सारे पैरामीटर की जांच कर पाएंगे। शहरों तथा गांव में निर्माणाधीन सामुदायिक स्वास्थ्य संचालक के संचालन की जिम्मेदारी स्थाई महिलाओं को ही सौंपी जाएगी।

यह भी पढ़े :  बसीर अहमद बाबा कि कहानी : Hizbul आतंकी बता गुजरात ATS ने 11 साल जेल में रखा, अब जाकर साबित हुआ निर्दोष, बरी होकर लौटा कश्मीर।