कर्नाटक में चल रहे सियासी नाटक का पूरा विश्लेषण, मुख्यमंत्री येदुरप्पा क्यों दे रहे हैं इस्तीफा?

0
187
येदुरप्पा

एक बार फिर बीजेपी पार्टी में हलचल होने लगी है। अभी कुछ वक्त पहले ही उत्तराखंड में सियासी हलचल देखने को मिला था और 4 महीने के अंदर ही  वहां 2 मुख्यमंत्री बदल दिए गए। इस बार हलचल कर्नाटक बीजेपी में चल रही है। खबरें मिल रही थी कर्नाटक के मुख्यमंत्री बीएस येदुरप्पा अपना इस्तीफा सौंप दे सकते हैं।

येदुरप्पा

यह भी पढ़े: ICC T20 WORLD CUP 2021: T20 विश्व कप में दो पुरानें दुश्मन होंगे आमने-सामने, ICC ने तैयार किया पूरा प्लान !

इस्तीफे की खबर गलत -येदुरप्पा

प्रदेश के मुख्यमंत्री बीएस येदुरप्पा ने अपने इस्तीफे की खबर को अफवाह बताते हुए कहा उन्होंने प्रधानमंत्री के साथ मुलाकात राज्य के विकास से जुड़ी बातों के लिए की थी और इस्तीफे वाली खबर में किसी भी प्रकार की कोई सच्चाई नहीं है। येदुरप्पा ने पत्रकारों से बातचीत के दौरान कहा मैं दिल्ली में पीएम मोदी, गृह मंत्री अमित शाह, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह और पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा से मुलाकात की।

यह भी पढ़े:अपने तो अपने होते हैं : लखनऊ से गिरफ्तार हुए दो आतंकियों का जमीयत उलमा-ए-हिंद लड़ेगी केस ।

इस यात्रा के दौरान मैंने मेकेदातू परियोजना से संबंधित जल संसाधन मंत्री से भी मुलाकात की। येदुरप्पा ने बताया कि वह आने वाले महीने में अगस्त के पहले सप्ताह तक फिर दिल्ली जाएंगे और कर्नाटक में बीजेपी सरकार को लेकर जेपी नड्डा से चर्चा करेंगे। उन्होंने कहा कि मैं अपने प्रदेश में फिर से एक बार भी बीजेपी की सरकार बनाने के लिए काम में लगा हूं।

यह भी पढ़े: मोदी के द्वारा सीएम योगी आदित्यनाथ की तारीफ़ पर तकलीफ क्यों? लोगों के दिल में क्यों चुभ रही है योगी की तारीफ? जाने इसके पीछे की पूरी वजह।

यह भी पढ़े:  भारत लौटे एथलीट : शानदार प्रदर्शन करने के बाद भारत लौटे एथलीट, ढोल नगाड़ों के साथ हुआ जोरदार स्वागत

बेटे के लिए कैबिनेट में मांग रहे थे पद

खबरों के मुताबिक येदुरप्पा इस बात से इनकार किया कि उनका इस्तीफा होने वाला है सूत्र बता रहे थे कि पार्टी के आलाकमान उनकी सेहत और उम्र को देखते हुए इस्तीफा दिलाना चाहते हैं। सूत्र ये भी बता रहे थे की इस्तीफे की पेशकश की जा रही है और 1 से 2 दिन के अंदर वह इस्तीफा दे देंगे। एक खबर यह भी आई थी मुख्यमंत्री अपने बेटे के लिए केंद्रीय कैबिनेट में एक पद चाहते थे जिसके बाद इस पर भी उन्होंने खंडन किया है।

यह भी पढ़े: Rudraksha convention centre : पीएम मोदी का आज काशी दौरा, जाने क्या है शिवलिंग के आकार का बना रुद्राक्ष।