मोदी के द्वारा सीएम योगी आदित्यनाथ की तारीफ़ पर तकलीफ क्यों? लोगों के दिल में क्यों चुभ रही है योगी की तारीफ? जाने इसके पीछे की पूरी वजह।

0
192
सीएम योगी आदित्यनाथ

कल देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी में करीब 5 घंटे बिताए। प्रधानमंत्री मोदी ने बाबा विश्वनाथ की नगरी काशी से मंच के संबोधन के दौरान करीब 5 से 6 बार सीएम योगी आदित्यनाथ की तारीफ की। इस तारीफ के बाद से सोशल मीडिया और कुछ तथाकथित चैनलों पर इसको लेकर डिबेट शुरू हो गया।

सीएम योगी आदित्यनाथ

यह भी पढ़े: Rudraksha convention centre : पीएम मोदी का आज काशी दौरा, जाने क्या है शिवलिंग के आकार का बना रुद्राक्ष।

क्या था पीएम मोदी ने ?

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपने संबोधन में उत्तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ की तारीफ करते हुए कहे कि मुझे सोचना पड़ता है कि यूपी के कौन-कौन से विकास कार्यों की चर्चा करें और कौन से विकास कार्यो की चर्चा छोड़ दूं। मोदी ने कहा कि यह सब योगी जी के नेतृत्व का कमाल है और यूपी सरकार की कार्य निष्ठा के वजह से यह सब संभव हो रहा है। प्रधानमंत्री मोदी के इन वक्तव्य के बाद से बहुत से लोग योगी की इस तारीफ के बारे में अपनी सोच लिखते हुए नाखुश दिख रहे हैं। सोशल मीडिया पर लोग अपनी भड़ास भी निकाल रहे हैं।

यह भी पढ़े: NEET EXAM 2021 : दो चरणों में भरे जाएंगे इस बार NEET के एप्लीकेशन फॉर्म, परीक्षा का पैटर्न भी बदला, पूछे जायेगे 200 प्रश्न।

प्रधानमंत्री मोदी ने योगी की तारीफ में कई बार उनके प्रयासों की सराहना कर की इसके बाद बहुत से लोगों ने सोशल मीडिया पर नदियों में तैरती लाशें और रेत में दफन लाशों की तस्वीरें शेयर करके योगी के मैनेजमेंट को आईना दिखाने का प्रयास किया, जिसका तारीफ कुछ घंटे पहले प्रधानमंत्री मोदी कर रहे थे।

यह भी पढ़े:  ENG vs PAK : मोहम्मद रिजवान की पारी बेकार इंग्लैंड ने पाकिस्तान को T20 सीरीज हराया

यह भी पढ़े: बड़ी खबर : RTI के दायरे में होंगे उत्तर प्रदेश के सभी प्राइवेट स्कूल, खर्च और फीस की देनी होगी अब पूरी जानकारी।

सीएम योगी आदित्यनाथ की सराहना

पीएम मोदी के द्वारा योगी आदित्यनाथ की कोरोना महामारी के समय में किए गए मैनेजमेंट कार्यों की सराहना की गई। इस सराहना के बाद बहुत से लोगों ने सोशल मीडिया पर रेत में दफन लाशों की तस्वीर शेयर करते हुए ट्रोल करना शुरू कर दिया और योगी आदित्यनाथ के इस मैनेजमेंट के बारे में सवाल करने लगे।

ट्विटर पर लोगों ने क्या लिखा ?

एक ट्विटर यूजर मंगल सिंह ने लिखा कि नदियों में बहती लाशों पर अपने मुंह में दही जमा लेने वाला एक प्रधान सेवक आज अपने मुंह मियां मिट्ठू बनकर झूठ बोल रहा है, और जनता सुन रही है। सच में इस देश की जनता के लोगों में अब पानी बहता है वरना इतना झूठ कौन से देश की जनता सहन करती है। कहना चाहूंगा इस देश की जनता मूर्ख नहीं महामूर्ख है।  एक और ट्विटर यूजर सुनील ने लिखा कि यह बोलने से पहले कुछ तो शर्म कर लो साहब। यूपी से ज्यादा मिसमैनेजमेंट किसी और राज्य में नहीं हुआ। मां गंगा में तैरती लाशों का हिसाब है आपके पास? ऐसे बहुत से लोग ने ट्विटर पर सवाल करने शुरू कर दिए और योगी सरकार के इस मिसमैनेजमेंट को प्रधानमंत्री मोदी को टैग करते हुए लिखना शुरु कर दिया।

यह भी पढ़े: अजीबोगरीब मामला: एक ही मरीज में कोरोना वायरस के दो अलग-अलग वेरिएंट का हुआ संक्रमण, Double इन्फेक्शन कैसे होता है?