फेसबुक के बाद गूगल ने भी मानी भारत सरकार कि नई गाइडलाइन्स।

0
21
गूगल

जबसे सरकार ने सोशल मीडिया के लिए नई गाइडलाइन्स जारी हुई है तबसे सभी सोशल मीडिया प्लेटफार्म दुविधा में है। सरकार ने स्पष्ट रूप से सभी को बता दिया है की भारत में काम करने के लिए भारतीय गाइडलाइन्स के तहत ही काम करनी होगी। अब इस मामले में गूगल ने अपना बयान जारी किया है।

यह भी पढ़े : नई गाइडलाइन्स के खिलाफ व्हाट्सएप ने कोर्ट का खटखटाया दरवाजा।

गूगल ने कहा हम भारत सरकार के अनुसार ही काम करने को राजी है। गूगल अपनी हर सेवाएं भारत सरकार कि नई गाइडलाइन्स के अनुसार ही देगा। गूगल के प्रवक्ता ने बताया कि हमे महसूस हुआ कि हमारा प्लेटफार्म पूरी तरह से सिक्योर करने में सफल नहीं थे , हम अपना प्रयास जारी रखेंगे। हम अपनी पालिसी को जितना सम्भव हो सकता है पारदर्शी करेंगे।

यह भी पढ़े : क्या देश में कोरोना की तीसरी लहर का आनी तय है ?

हम भारत सरकार के कानून का सम्मान करते है। भारत के साथ हमारा एक लम्बा इतिहास है ,और हमें आपत्तिजनक कंटेंट को लेकर शिकायत आती रहती थी। फिर इसके बाद हम उसकी जांच करते है और हटाते है। हम पूरी तरह से स्तानीय कानून का पालन करने के लिए वचनबद्ध है।

यह भी पढ़े : कांग्रेस ने केजरीवाल सरकार पर उठाये सवाल , कहा 250 कोरोना योद्धाओं की गयी जान सिर्फ 15 को ही दिए 1 करोड़।

व्हाट्सएप ने नई गाइडलाइन्स के लिए बयान देते हुए कहा, की इससे हमारे उपभोगताओं की प्राइवेसी खत्म हो जायेगी। इससे उपभोग्ताओ के प्राइवेसी के नियम का उलंघन होगा। अगर बात करे फेसबुक कि तो उसको इस नए नियम से कोई तकलीफ नहीं है। फेसबुक ने नए नियम को मानाने को राजी हो गया है। अभी भी फेसबुक कि बातचीत कुछ मामले को लेकर सरकार के साथ जारी है।

यह भी पढ़े : यूपी के बेसिक शिक्षा मंत्री सतीश द्विवेदी कि मुश्किलें बढ़ी।