अटेंडेंट का कार्ड बनवा कर अस्पताल में भर्ती राम रहीम से मिलने पहुंचे हनीप्रीत।

0
2
राम रहीम

राम रहीम अस्पताल में भर्ती

रेप के मामले में सजा काट रहे डेरा सच्चा सौदा के प्रमुख गुरमीत राम रहीम कोरोना से पीड़ित हो गए हैं। कोरोना संक्रमण होने के बाद से उनकी तबीयत बिगड़ने लगी है। उनकी तबीयत को बिगड़ता देख सुनारिया जेल से पहले रोहतक पीजीआई ले जाया गया। उनके हालत में सुधार ना होने के कारण बाद में गुरुग्राम के मेदांता अस्पताल ले जाया गया जहां उनका इलाज अभी भी चल रहा है। 

यह भी पढ़े : कोरोना की दूसरी लहर के सामने भारतीय अर्थव्यवस्था ने टेके घुटने , 1 करोड़ से ज्यादा लोगों ने गवाई अपनी नौकरी।

राम रहीम से मिलने पहुंची हनीप्रीत

अस्पताल में भर्ती होने के बाद ही सोमवार को हनीप्रीत अस्पताल मिलने पहुंच गई। खबर के मुताबिक सोमवार की सुबह करीब 8:30 बजे हनीप्रीत गुरुग्राम के मेदांता अस्पताल पहुंची। अस्पताल पहुंचने के बाद हनीप्रीत ने अटेंडेंट के तौर पर अपना कार्ड बनवाया। इस अटेंडेंट के कार्ड बनवाने के बाद से हनीप्रीत हर दिन राम रहीम से उनके कमरे में मिलने जा सकती हैं। अटेंडेंट का कार्ड हनीप्रीत के लिए बनाया गया है वह 15 जून तक मान्य है।

यह भी पढ़े : दबे पाँव कही कोरोना की तीसरी लहर ने दस्तक तो नहीं दे दी ? महाराष्ट्र में हजारों बच्चे हुए कोरोना से संक्रमित।

डेरा प्रमुख को मेदांता अस्पताल के नौवीं मंजिल के कमरा नंबर 4646 में रखा गया है। हनीप्रीत उनके कमरे में हर दिन जा सकती। सूत्रों के अनुसार मिली जानकारी से पता चला है कि राम रहीम दवाई लेने और टेस्ट कराने में भी आनाकानी कर रहे कर रहे हैं। आपको बता दें सुनारिया जेल में बंद राम रहीम के पेट में दर्द की शिकायत थी जिस के इलाज के लिए उनको रोहतक पीजीआई ले जाया गया था।

यह भी पढ़े : कांग्रेस ने केजरीवाल सरकार पर उठाये सवाल , कहा 250 कोरोना योद्धाओं की गयी जान सिर्फ 15 को ही दिए 1 करोड़।

कहा पर चल रहा है राम रहीम का इलाज

रोहतक पीजीआई में उपचार के दौरान का सिटी स्कैन, एंजियोग्राफी और फाइब्रोस्कैन कराया गया इसके बाद रोहतक पीजीआई के डॉक्टरों ने कुछ और टेस्ट कराने की सलाह दी जिसके बाद राम रहीम को गुरुग्राम के मेदांता अस्पताल में भर्ती कराया गया। यहां लाने के बाद कोरोना टेस्ट कराया गया जिसमें उनकी रिपोर्ट पॉजिटिव आई। जानकारी के मुताबिक राम रहीम को शुगर और बीपी की बीमारी पहले से ही है। फिलहाल डॉक्टरों की निगरानी में रखा गया है और उनका इलाज मेदांता अस्पताल में चल रहा है।

यह भी पढ़े : रामदेव के खिलाफ डॉक्टरों का विरोध प्रदर्शन शुरू , बाबा को गिरफ्तार करने की मांग के पोस्टर गले में लटकाये।