देश में मिले रहे है Serotype 2 Dengue के बेहद खतरनाक स्ट्रेन, केंद्र सरकार ने 11 राज्यों के लिए जारी किया अलर्ट, जाने इस नए स्ट्रेन के लक्षण और बचाव के उपाय।

2
120
Serotype 2 Dengue

देश में इस वक्त कई ऐसे शहर है जो डेंगू (Serotype 2 Dengue) की चपेट में आ रहे हैं। दुनिया के तमाम देशों में डेंगू की वजह से हर साल लाखों लोगों की जान जाती है। मानसून खत्म होते-होते भारत में भी हर साल डेंगू के मामले बढ़ने लगते हैं। भारत में डेंगू के बढ़ते मामलों को ध्यान में रखते हुए सरकार सितंबर से अक्टूबर माह के बीच में लोगों को डेंगू से बचाने और बचाव को लेकर विशेष अलर्ट पर रहती हैं।

यह भी पढ़े: Charanjit Singh Channi बने पंजाब के 16 वें मुख्यमंत्री, पंजाब में हुए बड़े उलटफेर से मयावती की मुसीबते क्यों बढ़ी ? सिद्धू की गुगली पर कैप्टेन आउट कैसे हुए?

11 राज्यों में है Serotype 2 Dengue के गंभीर संक्रमण

आपको बता दिया डेंगू एडीज मच्छरों के काटने की वजह से होता है। हालिया रिपोर्ट के अनुसार देश के 11 राज्यों में डेंगू के गंभीर संक्रमण के खतरे है। इन खतरों को देखते हुए केंद्र सरकार ने  इन 11 राज्यों में अलर्ट जारी कर दिया है। कुछ रिपोर्ट के मुताबिक इस बार डेंगू के नए स्ट्रेन (Serotype 2 Dengue) मिल रहे हैं। डेंगू का नया स्ट्रेन Serotype 2 Dengue है जो बेहद खतरनाक माना जा रहा है।

Serotype 2 Dengue

डेंगू के गंभीर स्थिति में चली जाती है जान

विशेषज्ञों के मुताबिक डेंगू के अन्य रूपों की तुलना में नया स्ट्रेन गंभीर जटिलताओं का कारण बन रहा है। स्वास्थ्य विशेषज्ञों के मुताबिक डेंगू के मच्छर साफ और रुके हुए पानी में पैदा होते हैं इसलिए लोगों को अपने घर के आसपास कहीं भी पानी जमा नहीं होने देना चाहिए। डेंगू की गंभीर स्थिति जानलेवा भी हो सकती है इसलिए लोगों को विशेष सावधान रहने की जरूरत है।

यह भी पढ़े: कोरोना से ठीक हुए मरीजों में दिख रही है Gangrene जैसी घातक बीमारी की समस्या, 5 मरीजों की अब तक हो चुकी ही पुष्टि, जाने इसके लक्षण।

Serotype 2 Dengue क्या है?

अमेरिकन जर्नल ऑफ ट्रॉपिकल मेडिसिन एंड हाइजीन में छपी एक शोध के मुताबिक Serotype 2 Dengue बेहद गंभीर होने के साथ घातक साबित हो सकता है। Serotype 2 Dengue बुखार का कारण भी बनता है जिसे डेंगू का सबसे गंभीर रूप माना गया है। Serotype 2 Dengue के रोगियों में ब्लड प्रेशर में तेजी से गिरावट देखी जाती है जिससे शॉक लगने या मृत्यु का कारण बन जाता है। तेज बुखार लसिका तंत्र को नुकसान पहुंचाने लगती हैं जिसकी वजह से लोगों के नाक से खून आने लगते है या त्वचा के नीचे से खून जमने की समस्या पैदा हो जाती है।

Serotype 2 Dengue

Serotype 2 Dengue के लक्षण?

कुछ विशेषज्ञों के मुताबिक अगर बात करें तो Serotype 2 Dengue बुखार के कारण लोगों में गंभीर जटिलताओं जैसे लक्षण दिखाई देते हैं। इन लक्षणों में सर्दी, चिपचिपी त्वचा, बेचैनी और पल्स रेट में गिरावट हो सकती है। इसके अलावा कुछ लोगों में कई और गंभीर समस्याएं दिखती हैं। जैसे-

1. तेज बुखार

2. लसिका तंत्र को क्षति पहुंचना

3. नाक से या त्वचा के नीचे से खून बहना

4. आंतरिक रक्तस्राव

5. लीवर के बढ़ने की समस्या

6. परिसंचरण तंत्र की विफलता।

Serotype 2 Dengue

डेंगू का इलाज क्या है?

जिस तरीके से Serotype 2 Dengue के मामले बढ़ रहे हैं उस हिसाब से स्वास्थ्य विशेषज्ञों के मुताबिक यह एक बड़ी मुसीबतों का कारण बन सकता है। इन मुसीबतों से बचने के लिए सबसे पहले खून की जांच करने की सलाह डॉक्टर देते हैं। अगर खून की जांच में डेंगू की पुष्टि होती है तो इसके लक्षणों के आधार पर इलाज शुरू कर दिया जाता है। वैसे तो इस डेंगू बुखार का कोई भी विशिष्ट उपचार उपलब्ध नहीं है लेकिन लक्षणों को देखते हुए रोगियों को दवाइयां दी जाती है। रोगियों को दवाइयों के साथ-साथ ज्यादा आराम करने और अधिक मात्रा में तरल पदार्थ सेवन करने की सलाह दी जाती है।

यह भी पढ़े: RAHUL GANDHI का तंज, ट्विटर पर लिखा इवेंट खत्म, जाने राहुल गाँधी कौन से इवेंट की कर रहे है बात।

डेंगू से बचाव कैसे करें?

Serotype 2 Dengue के बचाव के लिए स्वास्थ्य विशेषज्ञों ने बताया कि इस समय लोग बेहद सावधान रहें। डेंगू के मच्छर दिन में ज्यादा काटते हैं ऐसे में सभी लोग इनसे बचने का तरीका अपनाते रहे। इन तरीकों में कुछ हम आपको बता रहे हैं जैसे –

1. घर के अंदर और बाहर दोनों जगह मच्छर भगाने वाली दवाओं का प्रयोग करें।

2. घर या आसपास पानी जमा न होने दें।

3. खाली कंटेनर और अन्य बर्तन जिनमें पानी जमा हो सकता है उन्हें उल्टा रखे या ढक कर रखें।

4. अपने आसपास के स्थानों को साफ सुथरा रखने की कोशिश करें

5. पूरी बाजू और ढीले कपड़े पहने।

6. सोते समय मच्छरदानी का उपयोग अवश्य करें।

यह भी पढ़े: IPL 2021: चेन्नई ने मुंबई इंडियंस को 20 रनो से रौंदा, चेन्नई के जीत के पांच बड़े कारण