हादसा : बांग्लादेश की राजधानी ढाका की एक फैक्ट्री में लगी भीषण आग, अब तक 52 की हुई मौत।

0
60
बांग्लादेश

गुरुवार को बांग्लादेश की राजधानी ढाका में 6 मंजिला फूड प्रोसेसिंग फैक्ट्री में आग लग गई। इस भीषण आग की वजह से इस हादसे में 52 लोगों के मौत की खबर आ रही है जबकि 30 लोग बुरी तरह से घायल हो गए हैं। कई लोग अभी भी लापता है। अपनी जान बचाने के लिए लोग जलती इमारत से नीचे कूद गए। यह भीषण आग फैक्ट्री के सबसे ऊपरी मंजिल पर लगी है और अब तक इस बात का पता नहीं चल पाया है कि उसमें भीतर कितने लोग फंसे हुए हैं। जो लोग अपनी जान बचाकर बाहर आए उन्होंने बताया कि फैक्ट्री के भीतर फंसे लोगों को बचा पाना अब मुश्किल लग रहा है। 

यह भी पढ़े:  Modi Cabinet Expansion List : किसको मिला कौन सा मंत्रालय ? देखे पूरी सूची ।

मौत के आकड़े का अब तक पता नहीं

गुरुवार शाम 5:00 बजे पुलिस ने बताया रूपगंज इलाके में स्थित फूड एंड बेवरेज फैक्ट्री में आग लगी थी। उस भीषण आग पर शुक्रवार की दोपहर तक काबू नहीं पाया जा सका है। फायर डिपार्टमेंट और पुलिस के अधिकारियों के मुताबिक इस हादसे में से 25 लोगों को बचा लिया गया है। इस हादसे में कितने लोगों की जान गई है इसके बारे में अब तक कोई भी पुख्ता जानकारी नहीं मिल पा रही है। अधिकारियों के मुताबिक पहले आग पर काबू पाया जाए उसके बाद ही इसके भीतर सर्च ऑपरेशन चालू किया जाएगा।

यह भी पढ़े: COVAXIN : कोवैक्सीन को जल्द मिल सकती है ग्लोबल अप्रूवल !

बांग्लादेश में इस तरह कि घटनाएं आम क्यों है ?

अधिकारियों ने बताया कि इस हादसे में कई लोग झुलस गए हैं, जबकि कई लोग इमारत से कूदने के बाद घायल हो गए हैं। फैक्ट्री में काम करने वाले एक मजदूर ने बताया कि जिस वक्त आग लगी उस वक्त उस फैक्ट्री में दर्जनों मजदूर मौजूद थे जो इस आग में फंसे हैं। बांग्लादेश में सुरक्षा नियमों को न मानने की वजह से इस तरह की आग लगने की घटनाएं आम बात हो गई। बीते वर्ष फरवरी में भी ढाका के एक अपार्टमेंट में आग लगी थी जिसमें 70 लोगों की जान चली गई थी।

यह भी पढ़े: China की चाल : चीन के कर्ज तले दबा एक और देश, दिवालिया होने की नौबत, उसकी जमीन पर कब्जा कर सकता है ड्रैगन।

आग से बच कर निकले मजदुर ने बयां किया दर्दनाक मंजर

उस आग से बच कर बाहर आए एक मजदूर ने बताया कि जब तीसरी मंजिल पर आग लगी तो सीढ़ियों पर दरवाजे बंद थे उस दौरान 48 लोग उस मंजिल पर फस गए। मजदूर ने आगे कहा कि मुझे नहीं पता कि उन फंसे हुए लोगों का क्या हुआ होगा। घटनास्थल पर मौजूद एक व्यक्ति ने बताया कि हादसे की खबर सुनकर वो यहां आए है और वह अपने भांजे को ढूंढ रहे हैं जो पहले फोन नहीं उठा रहा था और अब उसका फोन नहीं लग रहा है। एक अन्य मजदूर ने बताया कि आग लगने के बाद 13 मजदूर छत की तरफ भागे और देखते ही देखते हैं चारों तरफ काला धुआं भर गया।

बांग्लादेश

यह भी पढ़े: UP Block Pramukh Elections 2021 : नामांकन के दौरान हुआ हंगामा, कही हुई धक्का – मुक्की तो कही चला गोली।