हरियाणा बोर्ड ने जारी किया दसवीं का परीक्षा परिणाम, ना कोई टॉपर ना कोई हुआ फेल।

0
36
हरियाणा बोर्ड

सभी हुए पास लेकिन टॉपर कोई नहीं

हरियाणा बोर्ड ने शुक्रवार की दोपहर करीब 3:00 बजे कक्षा दसवीं का परीक्षा परिणाम घोषित कर दिया। परीक्षा परिणाम में हरियाणा विद्यालय शिक्षा बोर्ड ने किसी को टॉपर घोषित नहीं किया और ना ही किसी विद्यार्थी को फेल किया। दसवीं की परीक्षा परिणाम स्कूलों द्वारा दी गई इंटरनल एसेसमेंट के आधार पर जारी किया गया है। छात्र https://bseh.org.in पर जाकर अपना रिजल्ट देख सकते हैं।

ओपन बुक या प्राइवेट से आवेदन करने वाले सभी छात्रों के रिजल्ट पर अभी रोक लगा दी गई है। इसके अलावा उन छात्रों का भी परिणाम नहीं आया है जिनके इंटरनल एसेसमेंट के नंबर बोर्ड को नहीं मिल पाए थे। बताया जा रहा है कि हरियाणा विद्यालय शिक्षा बोर्ड ने सीबीएसई की तर्ज पर कक्षा दसवीं का परिणाम घोषित किया।

यह भी पढ़े : श्रीलंका दौरे से पहले इंडिया का प्लान, गब्बर को सौंपी कमान

3,13, 345 परीक्षार्थी थे शामिल

शुक्रवार को हरियाणा बोर्ड के अधिकारियों की बैठक हुई जिसके बाद शुक्रवार दोपहर 3:00 बजे परीक्षा परिणाम को घोषित करने का फैसला किया गया। आपको बता दें हरियाणा बोर्ड में कक्षा दसवीं के कुल 3,13 ,345 बच्चों ने आवेदन किया था। इनमें से 11, 628 बच्चे ऐसे थे जिन्होंने कंपार्टमेंट के लिए आवेदन कर रखा था और इनको बोर्ड ने प्रमोट कर के पास कर दिया है। हरियाणा बोर्ड के 10वीं में कुल 3,13, 345 परीक्षार्थी शामिल थे जिनमें से 1,72,0 59 छात्र जबकि 1,41, 286 छात्राएं थी।

यह भी पढ़े : मुंबई कि मानसून हादसे को दावत : मोहम्मद रफ़ी के परिवार के 9 लोगो की गयी जान।

कैसे तैयार हुआ है रिजल्ट

इस बार इंटरनल असेसमेंट और प्रैक्टिकल में मिले नंबरों के आधार पर परीक्षा परिणाम घोषित किए गए हैं। इन नंबरों में 20 नंबर की इंटरनल एसेसमेंट और 20 नंबर के प्रैक्टिकल के थे और बाकी 60 नंबर थ्योरी के माने गए हैं। मान लीजिए अगर बच्चों को इंटरनल एसेसमेंट और प्रेटिकल को मिलाकर पूरे नंबर मिल जाते हैं तो इन छात्रों को थ्योरी में भी पूरे नंबर ही मिलेंगे।

यह भी पढ़े : मुकुल राय की घर वापसी, दोबारा पहुंचे ममता की शरण में।

40 छात्रों का रिजल्ट नहीं आया

बोर्ड के अधिकारियों ने बताया कि उन बच्चों का रिजल्ट अभी होल्ड किया गया है जिनका इंटरनल एसेसमेंट का नंबर नहीं मिला था या वे प्रैक्टिकल में अनुपस्थित रहे। प्रदेश में ऐसे लगभग 40 बच्चे हैं जिनका रिजल्ट अभी भी होल्ड पर है।

यह भी पढ़े : कोरोना को लेकर हुआ नया खुलासा, चीन वुहान लैब से ही निकला है कोरोना।