MP BOARD CLASS 10 RESULT : मध्य प्रदेश बोर्ड ने जारी किया कक्षा दसवीं का रिजल्ट टॉपर के जगह पर लिखी खास जानकारी।

0
264
MP BOARD

बड़े लंबे समय के इंतजार के बाद आज एमपी बोर्ड (MP BOARD) ने कक्षा दसवीं के छात्रों का रिजल्ट जारी कर उनका इंतजार आखिरकार आज खत्म कर दिया। एमपी बोर्ड ने आज कक्षा दसवीं के रिजल्ट को जारी किया। आप अपने रिजल्ट को एमपी बोर्ड (MP BOARD) की आधिकारिक वेबसाइट के जरिए रिजल्ट देख सकते हैं, अथवा हम आपकी सुविधा के लिए इस खबर में डायरेक्ट लिंक भी दे रहे।

यह  भी पढ़े:  हिल स्टेशन पर उमड़ी भीड़ पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जताई चिंता, कहा इस तरह से भीड़ का जुटना हमारे लिए ठीक नहीं है।

इस बार एमपी बोर्ड (MP BOARD) ने अपना रिजल्ट हर साल की तरह से इस बार कुछ अलग तरीके से जारी किया है। हर बार एमपी बोर्ड (MP BOARD) रिजल्ट जारी करने के साथ-साथ एक टॉपर की लिस्ट भी जारी करता था लेकिन इस साल उस टॉपर की लिस्ट की जगह पर बोर्ड ने फर्स्ट, सेकंड और थर्ड डिवीजन पाने वाले छात्रों की संख्या बताई है।

MP BOARD

कैसा रहा है इस बार का रिजल्ट ?

एमपी बोर्ड (MP BOARD) के द्वारा जारी इस आंकड़े के मुताबिक कक्षा दसवीं की परीक्षा में लगभग 356000 छात्र फर्स्ट डिवीजन से पास हुए हैं जबकि 397626 विद्यार्थी सेकंड डिविजन तथा 159871 छात्र थर्ड डिवीजन से कक्षा दसवीं की परीक्षा को पास की है। इस साल कक्षा दसवीं के परीक्षा को एमपी बोर्ड (MP BOARD) ने कोरोना महामारी को ध्यान में रखते हुए रद्द कर दिया था।

यह  भी पढ़े: PAK VS ENG : अंतिम वनडे मैच में इंग्लैंड ने पाकिस्तान को रौंदा, 3-0 से इस सीरीज पर इंग्लैंड ने किया कब्ज़ा।

इस बार MP BOARD की ओर से तैयार किए गए इवैल्यूएशन पॉलिसी के जरिए ही रिजल्ट को तैयार किया गया है। बोर्ड ने इस बार बोर्ड ने यह तय किया था कि छात्रों के अंकों का सही मूल्यांकन होगा। लेकिन अगर कोई छात्र ग्रेस मार्क से भी कम नंबर पाता है तो उसे बोर्ड सीधे प्रमोट करेगा।

ऐसे देखे अपना रिजल्ट

आप मध्य प्रदेश बोर्ड की आधिकारिक वेबसाइट पर रिजल्ट देख सकते हैं। आप इस लिंक mpbse.nic.in के माध्यम से एमपी बोर्ड की साइट पर अपना रिजल्ट प्राप्त कर सकते हैं।

यह  भी पढ़े: भारतीय सेना का स्वच्छता अभियान: लश्कर-ए-तैयबा के कमांडर अबू हुरैरा समेत 3 आतंकी ढेर।

कैसे तैयार हुई है रिजल्ट ?

एमपी बोर्ड ने अपने छात्रों के कक्षा दसवीं का रिजल्ट बनाने के लिए 50 :30 :20 का फार्मूला अपनाया है। यानी बोर्ड ने रिजल्ट को तैयार करने के लिए 50 फ़ीसदी नंबर प्री बोर्ड के नंबरों से लिया और 30 फ़ीसदी नंबर यूनिट टेस्ट जबकि 20 फ़ीसदी नंबर इंटरनल एसेसमेंट से लेकर इस बार का परीक्षा फल तैयार किया गया है।

यह  भी पढ़े: मौत को दावत दे रही है लोगों की लापरवाही, Vaccine लगने के बाद क्यों लोग हुए लापरवाह, दुनिया के कई देशों में फिर शुरू हुई तबाही।