Cricket: Mayank और Rahul के समर्थन में उतरे, पृथ्वी के नाम पर भड़के कपिल देव, चयनकर्ताओं को लताड़ा !

0
2
कपिल देव

बीसीसीआई ने एक, दो नहीं बल्कि 5 खिलाड़ियों को इंग्लैंड के लंबे दौरे पर भेजा था जो किसी खिलाड़ी के चोटिल होने पर उसकी जगह ले सके। लेकिन अब ज़ब शुभमन  गिल चोटिल हुए तो मीडिया रिपोर्ट्स में खबरे आने लगी कि टीम मैनेजमेंट चाहता है कि श्रीलंका दौरे पर गए पृथ्वी शॉ को बतौर ओपनर सुमन गिल के रिप्लेसमेंट के तौर पर भेजा जाए। जबकि मयंक अग्रवाल, केएल राहुल पहले से ही इंग्लैंड दौरे पर गए हैं। लेकिन इसके बावजूद पृथ्वी शॉ को इंग्लैंड भेजे जाने की खबर पर भारत के पूर्व कप्तान कपिल देव बुरी तरह से भड़क गए। उन्होंने साफ तौर पर कह दिया पहले से 2 – 2 ओपनर मौजूद है तो क्या जरूरत है पृथ्वी शॉ को इंग्लैंड दौरे पर बुलाने की।

यह भी पढ़े :  Uttarakhand : पुष्कर सिंह धामी के रूप में मिला उत्तराखण्ड को 11वा मुख्यमंत्री ।

शुभमन गिल के जगह पर पृथ्वी क्यों ?

दरअसल 4 अगस्त से शुरू होने वाली 5 टेस्ट मैचों की सीरीज से पहले ही ये खबर आई टीम इंडिया के ओपनर बल्लेबाज शुभमन गिल चोटिल हो गए हैं। वो अंदरूनी चोट से जूझ रहे हैं। जिससे उन पर पूरी सीरीज से बाहर होने का खतरा मंडरा रहा है। यही वजह है कि कुछ मीडिया रिपोर्ट्स में कहा गया की टीम मैनेजमेंट चाहता है श्रीलंका दौरे पर गए पृथ्वी शॉ को बतौर ओपनर सुमन गिल के रिप्लेसमेंट के तौर पर भेजा जाए। बस इसी बात खबर पर 1983 का वर्ल्ड कप जिताने वाले पूर्व कप्तान कपिल देव बुरी तरह से भड़क गए।

यह भी पढ़े :  अमिताभ बच्चन के “प्रतीक्षा” बंगले की दीवार को तोड़ेगी बीएमसी, जाने इसके पीछे की बड़ी वजह।

खिलाडियों का अपमान नहीं होना चाहिए -कपिल देव

उन्होंने ABP न्यूज़ के Show में कहा मुझे नहीं लगता इसकी कोई जरूरत है। चयनकर्ता का भी कुछ सम्मान होना चाहिए। उन्होंने एक टीम चुनी है और मुझे यकीन है कि यह शास्त्री और कोहली के परामर्श के बिना नहीं होता होगा। मेरा मतलब है आपके पास केएल राहुल, मयंक अग्रवाल जैसे दो बड़े ओपनर बल्लेबाज हैं। तो क्या आपको वाकई तीसरे विकल्प की जरूरत है? मुझे नहीं लगता यह सही है। जो टीम चुनी गई है उसमें पहले से ही ओपनर बल्लेबाज है इसलिए मुझे नहीं लगता कि उन्हें खिलाना चाहिए। वर्ना उन खिलाड़ियों के लिए अपमानजनक है जो पहले से टीम में है।

यह भी पढ़े :  Cricket : Virat Kohli के लिए सबसे जरूरी T20 वर्ल्ड कप जीतना, सवालों के घेरे में कोहली कि कप्तानी !

मैं चाहता हूं कि कप्तान और टीम मैनेजमेंट को टीम सिलेक्शन में अपनी बात रखनी चाहिए। अगर ऐसा होता है तो फिर हमें सेलेक्टर्स की कोई जरूरत नहीं। मुझे यह जानकर थोड़ा अजीब लग रहा है कि ऐसा कुछ हुआ  तो यह चयनकर्ताओं और उनकी भूमिका को कम करके दिखाता है। हालांकि इस पर विराट और शास्त्री ही कुछ कह सकते हैं, मेरा मानना है कि ये गलत तरीका होगा क्योंकि आपने जिन खिलाड़ियों को इंग्लैंड टूर के लिए चुना है। आप उन्हें नीचा नहीं दिखा सकते।

यह भी पढ़े :  Viral Post : लव मैरिज करोगी या अरेंज? विराट के इस सवाल पर जाने स्मृति मंधाना का मजेदार जवाब।