बिना CORONA VACCINE लगवाएँ 15 अक्टूबर के बाद टीचर और स्टाफ को स्कूलों में नहीं मिलेगी एंट्री, त्योहरों के लिए SOP हुई जारी।

देश में कोरोना के मामले धीरे धीरे कम हो रहे हैं और CORONA VACCINE लगाने की भी रफ़्तार देश में तेज है। कोरोना के मामले कम होने की वजह से देश के कई राज्यों में अब स्कूलों को खोलने का प्रक्रिया आरंभ कर दिया गया है। दिल्ली में भी कोरोना के मामले अब सामान्य हो गए हैं जिसके बाद दिल्ली के भी स्कूलों को खोलने की इजाजत मिल गई है।

यह भी पढ़े: Punjab Politics : नवजोत सिंह सिद्धू राष्ट्रीय सुरक्षा के लिए खतरा, किस मुद्दे को लेकर Amarinder Singh ने NSA अजित डोभाल से की मुलाकात।

15 अक्टूबर के बाद टीचर और स्टाफ को बिना CORONA VACCINE लगवाए नहीं मिलेगी एंट्री

ऐसे में दिल्ली में जब स्कूल खुल रहे हैं तो दिल्ली की शिक्षा विभाग ने एक एडवाइजरी जारी की है। उसमें बताया गया है कि बिना वैक्सीन (CORONA VACCINE) लगवाए टीचर और स्टाफ को 15 अक्टूबर के बाद दिल्ली के स्कूलों में एंट्री नहीं मिलेगी। दिल्ली शिक्षा विभाग के मुताबिक जो भी टीचर और स्टाफ 15 अक्टूबर तक वैक्सीन (CORONA VACCINE) नहीं लगवाते हैं तो उन्हें अब्सेंट या लीव में माना जाएगा।

चिट्ठी लिखकर दिल्ली के सभी स्कूलों को दी गयी जानकारी

दिल्ली डायरेक्टरेट ऑफ़ एजुकेशन अपने यहां के सभी स्कूलों को चिट्ठी लिखकर इसकी जानकारी दी है। कोरोना की गंभीरता का जिक्र करते हुए पत्र में लिखा गया है कि जल्द से जल्द सभी स्टाफ और टीचर्स को वैक्सीन (CORONA VACCINE) लगवा दिया जाए। आपको बता दें दिल्ली सरकार ने अभी जूनियर क्लासेज के स्कूल खोलने के लिए मना कर दिया है। दिल्ली आपदा प्रबंधन विभाग की बैठक बुधवार को हुई थी।

यह भी पढ़े: COVID 19 UPDATE IN INDIA : केरल में अभी भी है 1 लाख से ज्यादा है सक्रीय मामले, जाने त्योहारों को लेकर स्वास्थ्य मंत्रालय ने क्या दी जानकारी।

जूनियर क्लास के स्कूल अभी त्योहारों के सीजन तक रहेंगे बंद

खबरों के मुताबिक जूनियर क्लास के लिए स्कूल बंद ही रखे जाएंगे। बताया गया कि इन स्कूलों को खोलने का विचार दशहरा, दीपावली के त्योहारों के सीजन के बाद ही किया जाएगा। हालांकि इन सभी बच्चों को ऑनलाइन पढ़ाई जारी रखी जाएगी। राज्य सरकार ने फैसला लेते हुए कहा कि रामलीला और अन्य त्योहारों समारोहों को भी प्रतिबंधों के साथ अनुमति दी जाती है।

CORONA VACCINE

त्योहारों के सीजन में न बरते लापरवाही

बैठक के दौरान इस बात पर सहमति बनी कि कोरोना की स्थिति अभी नियंत्रित है लेकिन लापरवाही नहीं बरती जा सकती है और लापरवाही खासतौर से इन त्योहारों के सीजन में बिल्कुल भी नहीं बरतनी चाहिए। कक्षाओं के खोलने का फैसला त्यौहारों के बाद ही लिया जाएगा।

यह भी पढ़े: MS Dhoni के फैंस को लग सकता है बड़ा झटका, इस सीजन के बाद धोनी IPL को बोल देंगे अलविदा, सामने आयी बड़ी वजह।

गैदरिंग निर्धारित SOP के तहत होगी

आने वाले त्योहारों को ध्यान में रखते हुए दिल्ली पुलिस और जिला प्रशासन उपयुक्त व्यवहार सुनिश्चित करने की तैयारी में जुटे हैं। त्योहारों के समय में इस बात का ध्यान रखा जाएगा कि इन त्योहारों के सीजन में होने वाले गैदरिंग निर्धारित SOP के अनुपालन में होगी।

किसी भी आयोजन में झूला या स्टाल लगाने की अनुमति नहीं होगी

त्योहारों के समय इस बात का भी ध्यान रखा जाएगा कि कहीं भी अधिक भीड़ जमा ना हो, जहां भी लोग इकट्ठा हो वहां प्रवेश और निकास, बैठने के लिए उचित दूरी का इंतजाम होना चाहिए। किसी भी आयोजन में झुला या स्टाल नहीं लगेंगे क्योंकि यह सभी सामाजिक दूरी के नियमों का उल्लंघन करने में भीड़ को आकर्षित करेंगे।

यह भी पढ़े: Modi Cabinet Meeting :पीएम पोषण योजना को मिली हरी झंडी, इस योजना के लिए खर्च होंगे 1.31 लाख करोड़ रुपए, मोदी के इस एक फैसले से पैदा होगी करीब 59 लाख नौकरी, जाने सरकार ने आज क्या-क्या लिए बड़े फैसले?

One thought on “बिना CORONA VACCINE लगवाएँ 15 अक्टूबर के बाद टीचर और स्टाफ को स्कूलों में नहीं मिलेगी एंट्री, त्योहरों के लिए SOP हुई जारी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *