Lakhimpur Kheri : बीजेपी नेता की गाडी ने आंदोलन कर रहे किसानों को कुचला, 2 की मौत 1 बुरी तरह से घायल, केशव प्रसाद का होना था कार्यकम।

1
45
Lakhimpur Kheri

उत्तर प्रदेश के उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य आज लखीमपुर खीरी (Lakhimpur Kheri) के गांव बनवीर में पहुंचने वाले थे। उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय मिश्र टेनी के गांव पहुंचकर कार्यक्रम को संबोधित करने वाले थे। लेकिन किसानों को जैसे ही इसकी खबर लगी हजारों किसानों ने लखीमपुर खीरी (Lakhimpur Kheri) के तिकुनिया में कूच करना शुरू कर दिया।

यह भी पढ़े: Shahrukh Khan’s son Aryan Khan को NCB ने क्रूज पर हो रहे ड्रग्स पार्टी के मामले में कर रही है पूछताछ, अन्य 8 लोग भी NCB के हिरासत में, कभी भी हो सकती है गिरफ्तारी, जाने और कौन कौन है शामिल।

Lakhimpur Kheri में केशव प्रसाद का होना था कार्यक्रम

कार्यक्रम के मुताबिक डिप्टी सीएम हेलीकॉप्टर से पहुंचने वाले थे। लेकिन किसानों ने डिप्टी सीएम के कार्यक्रम के मुताबिक जिस स्थान पर हेलीपैड बना था उस पर कब्जा जमा लिया। हेलीपैड पर कब्जा जमाने के बाद उप मुख्यमंत्री के कार्यक्रम में बदलाव किया गया। उपमुख्यमंत्री सड़क मार्ग से सुबह 9:00 बजे लखनऊ से निकले और दोपहर 12:00 बजे लखीमपुर खीरी (Lakhimpur Kheri) पहुंचते हैं।

Lakhimpur Kheri

केंद्रीय गृह राज्य मंत्री के बेटे ने Lakhimpur Kheri में किसानों में गाड़ी कुचला

नाराज किसानों ने डिप्टी सीएम के स्वागत में लगी होडिंग को भी तोड़ना शुरू किया और विरोध जताना जारी रखा। इसी बीच संयुक्त किसान मोर्चा ने एक ट्वीट करते हुए लिखा है कि केंद्रीय गृह राज्य मंत्री टेनी के बेटे ने अपनी गाड़ी से 3 किसानों को कुचल कर मार डाला है। इस पूरे मामले को आक्रोशित होता देख डीजीपी मुकुल गोयल ने एडीजी कानून व्यवस्था प्रशांत कुमार को फौरन मौके पर पहुंचने का आदेश देते हैं। उन्होंने बताया कि इस घटना में 2 किसानों की मौत हुई जबकि एक घायल हो गया है।

किसान नेता Rakesh Tikait Lakhimpur Kheri के लिए हुए रवाना

किसानों के घायल होने की सूचना मिलते ही किसान नेता राकेश टिकैत लखीमपुर खीरी (Lakhimpur Kheri) के लिए रवाना हो चुके हैं। राकेश टिकैत ने बताया कि लखीमपुर खीरी (Lakhimpur Kheri) से सैकड़ों किसान कार्यक्रम कर वापस लौट रहे थे तभी उन पर गाड़ी चढ़ा कर हमला कर दिया गया और इसके बाद फायरिंग भी की गई है।

यह भी पढ़े: CM Yogi Adityanath ने लड़कियों को दिया एक और तोहफा, दो बहनों में से एक की फीस होगी माफ़, जाने कैसे उठाये इस योजना लाभ, 30 नवंबर तक सभी छात्रों को छात्रवृत्ति देने का आदेश।

पुलिस किसानों से कर रही है बातचीत

राकेश टिकैत ने कहा कि वह भारतीय किसान यूनियन के पदाधिकारियों के साथ लखीमपुर खीरी (Lakhimpur Kheri) के लिए रवाना हो रहे हैं। इस मामले को बढ़ता देख अब पुलिस प्रशासन एतिहात के तौर पर सुरक्षा बढ़ा दी है। एसपी सिटी सेकंड ज्ञानेंद्र सिंह और थाना प्रभारी सचिन मलिक फाॅर्स लेकर किसान नेताओं से बातचीत करने में लगे हुए हैं।

यह भी पढ़े: UP Free Laptop Yojana 2021 जाने क्या है? इस योजना का लाभ छात्रों को कैसे मिलेगा? इन दस्तावेजों की पड़ेगी जरूरत, 5 आसान स्टेप्स से करे ऑनलाइन आवेदन।

Lakhimpur Kheri में हेल्काप्टर से जाने वाले थे उपमुख्यमंत्री, किसानों ने हैलीपैड पर कब्जा कर लिया था

आपको बता दें डिप्टी सीएम केशव प्रसाद का हेलीकॉप्टर उतरने का कार्यक्रम था जिसकी सुगबुगाहट लगते ही किसानों ने वहां हेलीपैड को अपने कब्जे में ले लिया था। बाइक और कार से पहुंचे किसानों ने टेंट लगाए और सरकार के खिलाफ बयानबाजी शुरू कर दिया। किसानों को संभालने की लिए पुलिस प्रशासन के पसीने छूटने लगे। जब भीड़ पुलिस के कंट्रोल से बाहर होने लगी तो आसपास के थानों से भी फोर्स बुलाई गई।

यह भी पढ़े: Mahatma Gandhi Birthday Special : 5 बार नोबेल पुरस्कार के लिए नामित होने के बाद भी गाँधी जी को क्यों नहीं मिला पुरस्कार? मृत्यु के 40 साल बाद नोबेल पुरस्कार समिति ने क्यों मांगी माफ़ी? दलाई लामा के शांति पुरस्कार से गाँधी जी का क्या है संबंध ? गाँधी जी के 6 विवादित फैसले कौन से है?